ROM-kya-hai

रोम क्या है? What is ROM in Hindi | Types of ROM in Details

COMPUTER

क्या आप जानते हैं ROM Kya Hai? मोबाइल और कंप्यूटर में रोम का क्या मतलब है? आजकल के जमाने में ज्यादातर काम मोबाइल और कंप्यूटर के द्वारा ही किये जा रहे हैं। अगर आप एक कंप्यूटर और मोबाइल खरीदने की सोच रहे हैं तो आप सबसे पहले मोबाइल और कंप्यूटर में RAM और Internal Memory के बारे में चर्चा करते हैं। दोस्तों क्या आपको पता है इंटरनल मेमोरी को ROM बोलते हैं।

मैंने पिछले आर्टिकल में आपको बताया था रैम क्या है? अगर आपको रैम के बारे में नहीं पता तो आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ सकते हैं मैंने Details में RAM के बारे में बताया है।

आजकल के डिजिटल जमाने में टेक्नोलॉजी काफी आगे निकल चुकी है टेक्नोलॉजी के चलते हैं मोबाइल और कंप्यूटर भी काफी अपग्रेड हो चुके हैं। अगर आप एक मोबाइल इस्तेमाल करते हैं तो आपको मोबाइल की रोम के बारे में जरूर जाना चाहिए।

रोम क्या है? What is ROM in Hindi?

ROM एक ऐसी मेमोरी होती है जिसमें डाटा Permanently स्टोर रहता है। इसके डाटा को सिर्फ पढ़ा जा सकता है लेकिन इसमें कोई नया डाटा जोड़ नहीं सकते इसीलिए इसे एक Non-Volatile Memory कहते हैं। यह कंप्यूटर का एक अहम हिस्सा होता है कंप्यूटर में दो प्रकार की मेमोरी होती है 1. Primary Memory, 2. Secondary Memory. प्राइमरी मेमोरी भी दो प्रकार की होती है पहला RAM और दूसरा ROM.

ROM की फुल फॉर्म रीड ओनली मेमोरी (Read Only Memory) होता है। नाम से ही पता चलता है की इसके डाटा को सिर्फ हम पढ़ सकते हैं लेकिन इसमें कोई और डाटा जोड़ नहीं सकते। मतलब इसमें Fixed Program रहता है जिसे आसानी से हम बदल नहीं सकते। रोम द्वारा ही कंप्यूटर के अलावा वॉशिंग मशीन, माइक्रोवेव ओवन, एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को प्रोग्राम किया जाता है। ROM एक स्थाई मेमोरी है इसमें डाटा हमेशा के लिए स्टोर रहता है Power Off होने के बाद भी डाटा डिलीट नहीं होता। लेकिन RAM में ऐसा नहीं है Power Off होने के बाद RAM का सारा डाटा अपने आप ही डिलीट हो जाता है। रोम को एक बार Manufacturer द्वारा Write करके दिया जाता है उसके बाद उसमें कोई भी छेड़छाड़ नहीं कर सकते।

ROM-kya-hota-hai

रोम की विशेषताएं – Characteristics of ROM in Hindi

  • रोम एक Non-Volatile Memory होती है।
  • इस Memory के डाटा को सिर्फ Read किया जा सकता है।
  • ROM, RAM के मुकाबले काफी सस्ती होती है।
  • ROM एक प्राइमरी मेमोरी होती है।
  • इसे परमानेंट स्टोरीज भी कहा जाता है।

रोम के प्रकार – Types of ROM in Hindi

रोम मुख्यता चार प्रकार की होती है हम इनके बारे में डिटेल में बताएंगे। रोम की पूरी जानकारी के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।
  1. MROM
  2. PROM
  3. EPROM
  4. EEPROM

1. MROM

अब इस मेमोरी का इस्तेमाल नहीं होता है पहले यह मेमोरी काफी महंगे होते थे। MROM की फुल फॉर्म Mask Read Only Memory है। इस मेमोरी में डाटा पहले से ही प्रोग्राम होते हैं। इसकी Data Store Density काफी अधिक होती है।

2. PROM

PROM की फुल फॉर्म Programmable Read Only Memory होती है। इसमें प्रोग्रामिंग के जरिए Instructions डाले जाते हैं उसके बाद इसे Erase नहीं कर सकते। इस मेमोरी में विशेष उपकरणों के द्वारा डाटा को Write किया जाता है।

3. EPROM

EPROM की फुल फॉर्म Erasable Programmable Read Only Memory होती है इसके नाम से ही पता चलता है किस इसके डाटा को मिटाया भी जा सकता है। इस मेमोरी में विशेष प्रक्रिया द्वारा डाटा को मिटाया जाता है। डाटा को मिटाने के लिए इस मेमोरी को Ulta-Violet Light से कुछ समय तक पास किया जाता है। इस मेमोरी का इस्तेमाल PCO, कंप्यूटर, टीवी ट्यूनर में किया जाता है।

4. EEPROM

EEPROM की फुल फॉर्म Electrically Erasable Programmable Read Only Memory होती है। इसका डाटा हम 10 हजार बार Erase कर सकते हैं और उसको आसानी से Re-Program भी कर सकते हैं। यह दूसरे ROM के मुकाबले थोड़ी धीमी होती है।

दोस्तों आशा करता हूं आप रोम के बारे में जान चुके होंगे लेकिन कई लोगों का यह सवाल रहता है की CD-ROM Kya hai? और यह किस प्रकार की मेमोरी है? अगर आप सीडी रोम के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को पूरा पढ़ें।

CD-ROM क्या है? What is CD-ROM in Hindi

CD-ROM की फुल फॉर्म Compact Disc Read Only Memory होती है। यह देखने में एक ऑडियो सीडी के समान लगती है। सीडी रोम में डाटा को आसानी से बदला नहीं जा सकता। इस मेमोरी के डाटा को हम सिर्फ पढ़ सकते हैं लेकिन उसको Re-Program नहीं कर सकते। यह एक प्रकार की स्थिर मेमोरी होती है। इसमें डाटा Permanently स्टोर रहता है। इसके डाटा को पढ़ने के लिए लेजर किरणों का इस्तेमाल किया जाता है। यह मेमोरी कई प्रकार की होती हैं।

CD-ROM-Kya-hai

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको इस लेख में बताया ROM Kya Hai? रूम की विशेषताएं और रूम कितने प्रकार की होती है? अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में हमें पूछ सकते हैं हम जल्द से जल्द आपको उत्तर देने की कोशिश करेंगे।

धन्यवाद दोस्तों!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *